ODI इतिहास में पहली बार हुआ ऐसा चमत्कार, कीवी बल्लेबाज ने अंतिम ओवर में हार के जबड़े से छीनी जीत

0
472

आयरलैंड और न्यूजीलैंड के बीच डबलिन में खेले गए पहले वनडे मुकाबले में कीवी टीम ने आखिरी ओवर में बाजी मार ली. इस मैच में न्यूजीलैंड ने आयरलैंड को 1 विकेट से हराकर तीन वनडे मुकाबलों की श्रृंखला में 1-0 की बढ़त बना ली है.

इस जीत के हीरो रहे न्यूजीलैंड टीम के माइकल ब्रेसवेल जिनकी नाबाद शतकीय पारी की वजह से न्यूजीलैंड ने मेजबान के ऊपर अविश्वसनीय जीत दर्ज की. मुकाबले की बात करें तो आयरलैंड ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 50 ओवरों में 9 विकेट खोकर 300 रन बनाए. टीम की ओर से युवा बल्लेबाज हैरी टेक्टर ने 117 गेंदों में 113 रन की बेहतरीन शतकीय पारी खेली. उनकी इस पारी की बदौलत आयरलैंड टीम 300 रन का आंकड़ा छूने में कामयाब रही.

जवाब में न्यूजीलैंड की शुरुआत बेहद खराब रही और उनकी टीम महज 19 रन के स्कोर पर दो विकेट गंवा चुकी थी . यही नहीं उन्होंने 217 रन पर अपने 8 विकेट गंवा दिए थे और मुकाबला पूरी तरह से मेजबान टीम के हाथों में आ गया था.

आखिरी ओवर में ब्रेसवेल ने जड़े 24 रन
लेकिन इसके बाद ब्रेसवेल ने एक ऐसी पारी खेली जिसकी उम्मीद किसी ने नहीं की थी. उन्होंने एक छोर को संभाला और लगातार तेजी से रन बनाते रहे. इसी बीच उन्होंने अपना शतक भी पूरा किया. न्यूजीलैंड को जीत के लिए आखिरी ओवर में 20 रन बनाने थे और उनका सिर्फ एक विकेट शेष था.

मेजबान की ओर से गेंदबाजी के लिए आए क्रेग यंग. मैच की दूसरी पारी के 49 ओवर तक यह मुकाबला मेजबान के हाथों में ही था और ऐसा लग रहा था कि आयरलैंड इस मैच को आसानी से जीत जाएगा. लेकिन ब्रेसवेल ने आखिरी ओवर की शुरुआती 5 गेंदों में ही 24 रन जड़ यह मुकाबला न्यूजीलैंड की झोली में डाल दिया.

ब्रेसवेल ने शुरुआती 2 गेंदों में 2 चौके जड़े. तीसरी गेंद पर छक्का जड़ा. चौथी गेंद पर चौका और पांचवी गेंद पर छक्का जड़ यह मुकाबला अपने नाम किया. बता दें, ब्रेसवेल ने 82 गेंदों में 127 रनों की नाबाद पारी खेली जिसमें उन्होंने 10 चौके और 7 छक्के जड़े थे. उनकी इस पारी को देखने के बाद टि्वटर पर लोगों ने उनकी बल्लेबाजी की खूब तारीफ की है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here