92 साल पुराना ऑस्ट्रेलियाई रिकॉर्ड टूटा, इस टीम ने 725 रनों से टेस्ट मैच जीतकर रचा इतिहास

0
333

फर्स्ट क्लास क्रिकेट में बुधवार को नया रिकॉर्ड बना… रनों के लिहाज से सबसे बड़ी जीत का. मुंबई ने रणजी ट्रॉफी के क्वार्टर फाइनल में उत्तराखंड को 725 रनों से हराया. ऑस्ट्रेलिया में 1930 में न्यू साउथ वेल्स ने क्वींसलैंड को 685 रन से हराया था. यानी फर्स्ट क्लास क्रिकेट में अब तक रनों के लिहाज से ये सबसे बड़ी जीत थी. 92 साल बाद मुंबई ने यह रिकॉर्ड तोड़ा है. बता दें कि टेस्ट क्रिकेट को भी फर्स्ट क्लास क्रिकेट में शामिल किया जाता है.Stats - Ranji Trophy 2021-22 - Mumbai's margin breaks 92-year-old record,  Bengal batters shatter 129-year-old record

अगर 88 साल पुराने रणजी टूर्नामेंट की बात करें तो इससे पहले सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड बंगाल के नाम था. बंगाल ने दिसंबर 1953 में ओडिशा को 540 रन से हराया था. भारत में खेले गए ओवरऑल फर्स्ट क्लास मैचों में सबसे बड़ी जीत का रिकॉर्ड साउथ जोन के नाम है. साउथ जोन ने साल 2011 में दलीप ट्रॉफी के मुकाबले में सेंट्रल जोन को 552 रन से हराया था.

उत्तराखंड को दिया 795 रनों का टारगेट, जो 69 पर सिमट गई
मुंबई ने 647/8 के स्कोर पर अपनी पहली पारी घोषित की. उसके बाद उत्तराखंड के बल्लेबाजों को 114 रनों पर चलता कर दिया. टीम ने दूसरी पारी 261/3 पर डिक्लेयर कर उत्तराखंड को 795 रनों का लक्ष्य दिया. इतने बड़े लक्ष्य को साधने उतरी उत्तराखंड की टीम 69 रन ही बना सकी.

मुकाबले में मुंबई की ओर से सुवेद पारकर ने पहली पारी में डबल सेंचुरी जमाई, जबकि सरफराज खान ने शानदार 153 रन बनाए. इस पारी में अरमान जाफर (60) और शाम्स मुलानी (59) के बल्ले से अर्धशतक निकले. टीम की दूसरी पारी में ओपनर यशस्वी जायसवाल ने 103, पृथ्वी शॉ ने 72 और आदित्य तारे ने 57 रन बनाए. मुलानी ने मुकाबले में सात विकेट लिए. उन्हें पहली पारी में 4 और दूसरी में तीन विकेट मिले.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here