Home क्रिकेट 6000 करोड़ की टीम पर भारी पड़ा 20 लाख का धुरंधर, धोनी...

6000 करोड़ की टीम पर भारी पड़ा 20 लाख का धुरंधर, धोनी की 2 चालों ने तोड़े पांड्या के सपने, CSK 10वीं बार फाइनल में

191
0

Gujarat Titans vs Chennai Super Kings, Qualifier 1: चेन्नई के चेपॉक स्टेडियम में चेन्नई सुपर किंग्स (CSK) और गुजरात टाइटन्स (GT) के बीच आईपीएल 2023 का पहला क्वालीफ़ायर (Gujarat Titans vs Chennai Super Kings, Qualifier 1) खेला गया।

Gujarat Titans vs Chennai Super Kings, Qualifier 1 में टॉस जीतकर गुजरात के कप्तान हार्दिक पांड्या (Hardik Pandya) ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला लिया। और पहले बल्लेबाजी करते हुए चेन्नई सुपर किंग्स ने बोर्ड पर 172/7 रनों का स्कोर खड़ा कर दिया। चेन्नई की पिच पर मिले इस चुनौतीपूर्ण लक्ष्य को पाने में गुजरात की टीम नाकाम रही।

पहले बल्लेबाजी करने आये चेन्नई के सलामी बल्लेबाजों ने प्रथम विकेट के लिए 87 रन जोड़े ऋतुराज गायकवाड़ ने 60 रनों की जबरदस्त अर्धशतकीय पारी खेली। उन्होंने 44 गेंदों का सामना किया और 7 चौके व 1 छक्का जमाया। गायकवाड़ का विकेट गिरने के बाद चेन्नई की पारी लड़खड़ाती हुई नजर आई।

सलामी बल्लेबाज डेवोन कॉनवे ने 34 गेंदों पर 40 रनों की जुझारू पारी खेली तो मध्यक्रम में शिवम दुबे 1 रन, अजिंक्य रहाणे और अम्बाती रायडू ने 17-17 रन बनाये। अंत में रविन्द्र जडेजा ने कुछ अच्छे शॉट्स खेले और 16 गेंदों पर 22 रन बनाये। चेन्नई के कप्तान एमएस धोनी 2 गेंदों पर केवल 1 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। गुजरात टाइटन्स के लिए मोहम्मद शमी और मोहित शर्मा को 2-2 विकेट मिले तो दर्शन नालकंडे, नूर अहमद और राशिद खान को 1-1 विकेट प्राप्त हुआ।

लक्ष्य का पीछा करने उतरे गुजरात के सलामी बल्लेबाजों ने सधी हुई शुरुआत की लेकिन ऋद्धिमान साहा 12 रन बनाकर जल्दी पवेलियन लौट गए। उसके बाद चेन्नई के गेंदबाजों ने लगातार अन्तराल में टाइटन्स को झटके दिए। हार्दिक पांड्या 8 रन, दसुन शनाका 17 रन, डेविड मिलर 4 रन और विजय शंकर 14 रन बना पाए। दूसरे छोर पर शुभमन गिल ने हिम्मत जरुरी दिखाई लेकिन 42 रनों पर उनकी भी पारी खत्म हो गई

अंत में राशिद खान ने ताबड़तोड़ शॉट खेले और 16 गेंदों पर 30 रन बनाये लेकिन अपनी टीम को जीत नहीं दिला पाए। 20वें ओवर की अंतिम गेंद पर गुजरात टीम 157 रनों पर ऑल आउट हो गई और टीम ने फाइनल में जाने का अवसर 15 रनों से गंवा दिया।

आपको बता दें कि आईपीएल के 16 सीजन में चेन्नई सुपर किंग्स 10वीं बार फाइनल में पहुंची है। गौरतलब है कि 2016 और 2017 में चेन्नई आईपीएल हिस्सा नहीं रही थी। फिर भी एक टीम के रूप में सबसे ज्यादा फाइनल खेलने का रिकॉर्ड धोनी की टीम के ही नाम है।

धोनी ने पांड्या के बैटिंग करने आने पर एक फिल्डर लेग साइड से हटाकर ऑफ साइड में लगा दिया। इसकी अगली गेंद पर ही पांड्या ऑफ साइड में जडेजा को उसी स्थान पर कैच दे बैठे। इसके बाद धोनी ने बड़ी चाल चलते हुए 16वें ओवर से पहले मैच रुकवा दिया था, क्योंकि अंपायर पथिराना को ओवर डालने से रोक रहे थे। क्योंकि पथिराना इससे पहले मैदान से बाहर था, तो धोनी ने अंपायर से गुफ्तगू करते हुए टाइम वेस्ट किया. जोकि चेन्नई की जीत के लिए टर्निंग पॉइंट साबित हुआ। पथिराना ने मैच में दो विकेट हासिल किये।

Previous articleबेबी मलिंगा-जडेजा ने तोड़ा पांड्या का घमंड, 10वीं बार फाइनल में चेन्नई, 6666..राशिद खान की तूफानी पारी बेकार
Next articleब्रावो ने लगाये ठुमके, धोनी के गले से जा लिपटी जीवा, साक्षी ने लुटी महफिल, फाइनल में पहुंच जश्न में डूबी चेन्नई

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here